कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा है कि किसी गांधी से बाहर के व्यक्ति को पार्टी का नेतृत्व संभालना चाहिए। प्रियंका गांधी ने अपने भाई और कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी के फैसले का समर्थन करते हुए कहा कि अब किसी गैर-गांधी को कांग्रेस का अध्‍यक्ष बनाया जाना चाहिए। प्रियंका ने ये बातें एक किताब India tomorrow में छपे इंटरव्यू में कही हैं।

प्रियंका ने कहा है कि जैसा कि राहुल ने कहा था कि हममें से किसी को पार्टी का अध्यक्ष नहीं होना चाहिए, मैं उनसे पूरी तरह सहमत हूं। मुझे ये भी लगता है कि अब पार्टी को अपना रास्ता तलाशने की जरूरत भी है। दरअसल, राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा देते हुए कहा था कि किसी गैर-गांधी को कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया जाए।

कांग्रेस महासचिव ने कहा कि उन्होंने (राहुल गांधी) कहा है कि हम में से कोई भी पार्टी का अध्यक्ष नहीं होना चाहिए और मैं उनकी इस बात से पूरी तरह सहमत हूं। उन्होंने आगे कहा कि मुझे लगता है कि पार्टी को अपना रास्ता भी तलाशना चाहिए। प्रियंका ने यह भी कहा कि उन्हें नेहरू गांधी खानदान से बाहर के अध्यक्ष के साथ काम करने में कोई दिक्कत नहीं है।

प्रियंका गांधी ने कहा कि अगर कोई गांधी परिवार से बाहर का पार्टी का अध्यक्ष बना तो वो उसने निर्देशों का पालन करेंगी। उन्होंने कहा कि शायद (इस्तीफा) पत्र में तो नहीं, लेकिन कहीं और उन्होंने (राहुल गांधी) कहा कि हममें से कोई भी पार्टी का अध्यक्ष नहीं होना चाहिए और मैं उनके साथ पूर्ण सहमत हूं। मुझे लगता है कि पार्टी को अपना रास्ता भी खोजना चाहिए।

India Tomorrow किताब के लेखक Pradeep Chibber और Harsh Shah हैं और इसे 13 अगस्त को प्रकाशित किया गया था। किताब में आगे प्रियंका ने कहा है कि एक पार्टी अध्यक्ष भले ही गांधी परिवार से नहीं हो, वह उनका बॉस होगा। कांग्रेस महासचिव ने कहा कि अगर वह (पार्टी अध्यक्ष) कल मुझे कहते हैं कि मुझे तुम्हारी जरूरत उत्तर प्रदेश में नहीं, बल्कि अंडमान व निकोबार में है, तो मैं खुशी से अंडमान और निकोबार चली जाऊंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here