उत्तराखंड : रुड़की में प्रशासन और औषधिनियंत्रण विभाग की संयुक्त टीम ने नकली एंटीबायोटिक दवाओं का जखीरा पकड़ने में कामयाबी हासिल की है। मौके से पकड़ी गई दवाओं की कीमत करीब ढाई करोड़ रुपये बधाई गई है। इसके साथ ही छह आरोपियों को भी दस्तावेजों के साथ हिरासत में ले लिया गया है। फैक्ट्री, गोदाम और दफ्तर को सील कर दिया गया है।

औषधि नियंत्रण विभाग की देहरादून से आई टीम के साथ ज्वाइंट मजिस्ट्रेट नमामि बंसल और सिविल लाइंस पुलिस ने नकली दवाएं पैक करने की सूचना पर आदर्शनगर स्थित गोदाम में छापा मारा। मौके पर वहां तीन लोग दवा की पैकिंग करते हुए मिले। बता दे कि जिस नाम से दवा पैक की जा रही थी वह फैक्ट्री की विभागों के अभिलेखों में कहीं भी दर्ज नहीं था।

जानकारी के मुताबिक इस गोदाम से गोदाम से करीब एक करोड़ की नकली एंटीबायोटिक दवाएं पकड़ी गई। इसके साथ ही औषधि नियंत्रण विभाग की टीम ने गोदाम और कंपनी के दफ्तर से दवाओं के सैंपल भी बरामद किए हैं।

पुलिस के मुताबिक मामले में रैकेट के मास्टर माइंड समेत चार लोगों को हिरासत में ले लिया। वहीं प्रशासन ने इस नकली दवाओं के रैकेट के मास्टरमाइंड के फ्लैट में छापेमारी की जहां से प्रशासन की टीम को उसका दस्तावेज लैपटॉप आदि बरामद हुआ।

औषधि नियंत्रण विभाग के टीम के मुताबिक रुड़की के आदर्श नगर में जिन दवाओं की पैकिंग की जा रही थी। उसे भगवानपुर के पुहाना में स्थित एक फैक्ट्री में बनाया गया था। वही इस जानकारी के बाद औषधि नियंत्रण विभाग की टीम ने पुहाना में छापा मारकर फैक्ट्री को सील कर दिया, वही मौके से दो आरोपियों को हिरासत में लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here