गदरपुर : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को ‘परीक्षा पे चर्चा’ कार्यक्रम के तहत वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से दुनिया भर के छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों से संवाद किया। वही कोरोना के खौफ के बीच बोर्ड की परीक्षा देने वाले छात्रों से पीएम मोदी ने बात करके उनके सवालों के जवाब दिया।

वही उत्तराखंड सरकार के कैबिनेट मंत्री अरविंद पांडेय ने भी “परीक्षा पे चर्चा” कार्यक्रम को वर्चुअल माध्यम से देखा। इस दौरान उन्होंने कहा कि माता-पिता व अभिभावक बच्चों की रुचि, प्रकृति, प्रवृत्ति को समझे और बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिए उनकी कमियों को दूर करें।

वही उन्होंने विद्यार्थियों से भी अपील की, कि वे भी अपने माता-पिता व अभिभावकों का सम्मान करें। प्रत्येक बच्चा अपने आप में अद्वितीय है, आप प्रतिस्पर्धा नहीं अनुस्पर्धा करें। हमारी सबसे अच्छी स्पर्धा, अपने आप से ही स्पर्धा होनी चाहिए। परीक्षा की तैयारी और अंक प्राप्ति मात्र के लिए ही नहीं, बल्कि अपने जीवन को सुदृढ़ और उज्जवल बनाने के लिए अध्ययन करें। परीक्षा, जीवन को गढ़ने का एक अवसर है, उसे उसी रूप में लेना चाहिए।

इसके साथ ही अरविंद पांडेय ने परीक्षार्थियों से आग्रह करते हुए कहा कि वे परीक्षा में तैयारी डट कर करे, डर कर नहीं। उन्होंने कहा कि निश्चित ही ‘परीक्षा पे चर्चा 2021’ में माननीय प्रधानमंत्री जी का प्रेरणादायक संवाद परीक्षार्थियों, युवाओं, शिक्षकों एवं अभिभावकों के जीवन में नवीन ऊर्जा व उत्साह का संचार तथा नई दिशा व नया बल प्रदान करेगा।

कैबिनेट मंत्री अरविंद पांडेय ने परीक्षा में तनावमुक्त रहने व चुनौतियों का सफलतापूर्वक सामना करने तथा परीक्षा से सम्बंधित अन्य विषयों पर कुशल मार्गदर्शन हेतु माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी का सह्रदय से आभार भी जताया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here